बार बार पेशाब आने का कारण / Bar bar peshab ka ilaj in hindi

हम जो कुछ भी खाते पिते हैं हमारा शरीर उसमे से पोषक तत्वों को  अलग करके विषैले पदार्थो को मूत्र द्वारा बाहर निकाल देता है। सबसे पहले तो ये जान लें कि पेशाब को कभी भी रोकना नहीं चाहिए। पेशाब की वेदना महसूस होते ही उसी वक्त करना चाहिए क्योंकि पेशाब के रोकने से बहोत सी बीमारियां पैदा होती हैं जैसे कि पथरी। अगर आपको बार बार पेशाब आता है तो यह किसी बीमारी की भी वजह हो सकती है। रात को बार बार पेशाब आने से परेशानी होती है हमें गहरी नींद में उठकर टॉयलेट जाना पड़ता है। इसकी वजह से हम ज्यादा पानी पीने से भी डरते हैं। एक सामान्य व्यक्ति दिन में 4 से 6 बार पेशाब करता है जो 700 से 3 लीटर के बीच में होता है। अगर आपको 6 से ज्यादा बार टॉयलेट आये तो हमे उपचार की जरुरत है। आज इस पोस्ट में हम आपको बार बार पेशाब आने का कारण और Bar bar peshab ka ilaj in hindi बतायेंगे।

बार बार पेशाब लगने का कारण

  • पेशाब में इन्फेक्शन बन जाना
  • चाय, कॉफ़ी या दूसरे तरल पदार्थो का अधिक सेवन करने से
  • सर्दियों के मौसम में ज्यादा मूत्र बनता  है
  • ब्लैडर में इन्फेक्शन होने से
  • शुगर के मरीज को ज्यादा पेशाब आता है
  • छोटे बच्चों को अगर पेट में कीड़े हो तो बच्चों को ज्यादा पेशाब आता है
  • प्रेगनेंसी में ज्यादा पेशाब आता है
  • किडनी में संक्रमण होने से

पेशाब ज्यादा आने के लक्षण

  • पेशाब का रंग गहरा पीला हो जाता है।
  • प्यास ज्यादा लगती है
  • शरीर में कमजोरी आ जाती है।
  • नींद कम हो जाना
  • सर्दी में और प्रेगनेंसी में ज्यादा पेशाब आना नार्मल है।

बार बार पेशाब आने से रोकने के उपाय / Bar bar peshab ka ilaj in hindi

आंवले का रस

Bar bar peshab ka ilaj in hindi

रोजाना आंवले के रस में शहद मिलाकर पीने से बार बार पेशाब आना बंद हो जाता है। 3 महीने तक इस उपाय को रोजाना करें।

सेब

seb khane ke fayde

रात को बार बार पेशाब आना की परेशानी को सुबह खाली पेट एक सेब खाकर भी ठीक किया जा सकता है।

मेथी के बीज

methi khane ke fayde

Bar bar peshab ka ilaj in hindi. मेथी के बीज में विटामिन्स और जिंक जैसे बहोत से मिनरल पाये जाते हैं जो बार बार पेशाब आने का अच्छा इलाज है। एक कप मेथी के बीज को धीमी आंच पर गहरा भूरा होने तक भून लें। अब इन्हे ठंडा होने के लिए रख दें। इसके बाद इन्हे पीसकर इनका पाउडर बना लें। रोजाना आधी चमच्च पाउडर पानी के साथ सेवन करें।

अनार का रस

anar ka juice peene ke fayde

अनार में एंटीऑक्सीडेंट और ellagic acid का स्त्रोत है जो पेशाब के रोग के उपचार में फायदेमंद है। अनार एक बहोत ही असरदार घरेलु नुस्खा है।

जीरा

jeera khane ke fayde

जीरा हमारी रसोई में मसालों में से एक है। जीरे में से बहोत से लाभकारी गुण पाये जाते हैं जिसकी वजह से ही इसे दवा के रूप में भी प्रयोग किया जाता है। इसमें आयरन काफी मात्रा में पाया जाता है जो हमारे ब्लैडर की अच्छे से सफाई करता है।

अदरक का रस

adrak ka ras pine ke fayde

Bar bar peshab ka ilaj in hindi. अदरक का रस रोजाना पीने से बार बार मूत्र आने की समस्या खत्म हो जाती है। इसलिए सुबह शाम 2 चमच्च अदरक के जूस का सेवन करें।

तिल के लड्डू

til ke ladoo khane ke fayde

पेशाब ज्यादा आने का उपाय में आप सुबह और शाम दोनों समय नियमित रूप से गुड़ और तिल के लड्डू खाये।

बच्चे का बार बार पेशाब आना

पेट में कीड़े पड़ने के कारण बच्चो को बार बार पेशाब आता है। इसके लिये थोड़ा सा जायफल घिस लें और एक चौथाई चमच्च की मात्रा में बच्चे को चटा दें। ऊपर से थोड़ा दूध पिला दें।

पके हुए केले खायें

kele khane ke fayde

खाना खाने के बाद 2 पके केले खाने से बार बार पेशाब आने की समस्या खत्म हो जाती है।

जानें पथरी का पक्का इलाज 

पेशाब बार बार लगने का आयुर्वेदिक उपचार

  • Bar bar peshab ka ilaj in hindi. एक चमच्च अजवाइन में थोड़ा सा नमक मिलाकर पानी के साथ सेवन करें। ऐसा करने से कुछ ही दिनों में ज्यादा पेशाब की समस्या से छुटकारा मिल जाता है।
  • बेकिंग सोडा पेशाब के ph लेवल को बनाये रखने में मदद करता है। साथ में ब्लैडर में इन्फेक्शन को भी ठीक करता है।
  • भुने हुए चने गुड़ के साथ खाने से भी बार बार पेशाब आने की समस्या खत्म हो जाती है।
  • अंगूर का रस रोजाना पीने से पेशाब की समस्या छुटकारा मिल जाता है।
  • रोजाना नियमित रूप से मेथी की सब्जी खाने से भी बार बार पेशाब आने की समस्या खत्म हो जाती है। अगर आप जल्दी ठीक होना चाहते हैं तो एक महीने तक नियमित रूप से मेथी की सब्जी खायें।
  • चाय और कॉफ़ी का सेवन बिल्कुल कम कर दें। इनके अत्यधिक सेवन से पेशाब बार बार आता है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *